बढ़ते कदम

हिमाचल प्रदेश में विद्या भारती का कार्य हिमाचल शिक्षा समिति के रूप में १९८० में पांवटा साहिब मेें एक सरस्वती विद्या मन्दिर प्रारम्भ होने के साथ शुरू हुआ। उसके उपरान्त हिमाचल शिक्षा समिति से कार्यकर्ता जुड़ते गए । अनेक बाधायें आने के बाद भी विद्यालय बढ़ते गए और इन्हीं कार्यकर्ताओं के परिश्रम से आज यह संख्या बढ़कर ३६५ तक पहुंच गई है। हिमाचल प्रदेश में ये विद्यालय ग्रामीण जनजातीय एवं दुर्गम क्षेत्रों में चल रहे हैं। डोडरा क्वार जहां पहुंचने के लिए ४० कि०मी० पैदल चलना पडता है, में भी १० वर्षो से विद्यालय चल रहा है। जनजातीय क्षेत्रों में कुल ९ विद्या मन्दिर चल रहे है। हिमाचल के सुदूर क्षेत्र चम्बा जिले का पांगी हो या लाहौल -स्पिति का केलांग तथा उदयपुर जो वर्ष के छ: महीने देश के अन्य भागों से कटा रहता है, में भी अपना कार्य चल रहा है। हिमाचल शिक्षा समिति सम्पूर्ण प्रदेश में अनुशासित तथा संस्कार रूपी ज्ञान का प्रकाश निरन्तर देने में अग्रसर है।cartoon caricature from photoкупить путевка в болгариюготовые проекты домов и коттеджейпроекты на 8 квартиркак лечить описторхоз в домашних условияхвзойти на бештаугидрокостюм садкопродвижение отелей

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *